दाद खाज खुजली को जड़ से मिटाने के 10 उपाय और घरेलू दवा

0
2820

दाद खाज खुजली को जड़ से मिटाने के 10 उपाय और घरेलू दवा

दाद खाज खुजली का इलाज इन हिंदी: दाद खाज और खुजली स्किन से जुड़ी समस्याएं है। इसमें त्वचा पर लाल रंग के छोटे छोटे दाने होने लगते है। खारिश बार बार करने से स्किन पर निशान और जलन होने लगती है। खुजली को एक्ज़िमा रोग भी कहते है जो अधिकतर हाथों, गले, कमर, चेहरे, पैरों और शरीर के गुप्त अंग के आसपास होती है। लंबे समय तक त्वचा के गीले रहने पर और रूखी त्वचा पर भी इचिंग जादा होती है। दाद खाज ट्रीटमेंट के लिए कई प्रकार की एंटी फंगल क्रीम और दवाएं भी आती है। इसके इलावा आप घर पर कुछ देसी नुस्खे और घरेलू उपचार करके भी दाद खाज खुजली ठीक करने के उपाय कर सकते है। आइये जाने natural ayurvedic home remedies tips for skin itching treatment in hindi.
त्वचा पर दाद हो जाये तो कई बार इसके साथ फुंसियां भी हो जाती है और उनमें पस भरने लगती है। खुजली खारिश के उपचार के लिए जरुरी है की साफ़ सफाई का ध्यान रखे। शरीर को साफ़ रखे और साफ़ सुथरे कपड़े पहने। अगर सही तरीके से और सही समय पर इचिंग का इलाज किया जाये तो इस समस्या को बढ़ने से रोक सकते है।
खुजली के कारण : Causes
स्किन की एलर्जी के कारण जादातर खुजली की समस्या होती है, इसके इलावा कुछ कारण और भी है जिनकी वजह से शरीर पर इचिंग की समस्या होने लगती है।

  • त्वचा रूखी रहने से
  • धूल मिट्टी की कारण
  • मौसम में आये बदलाव से
  • स्किन पर इंफेक्शन होना
  • लंबे समय तक गीले रहने से
  • किसी क्रीम या मेडिसिन के साइड इफ़ेक्ट से
  • बालों में जुएं और रूसी होने के कारण सिर में खुजली होने लगती है।

खारिश खुजली के लक्षण : Symptoms

  • त्वचा का रंग लाल पड़ना
  • त्वचा पर छोटे दाने निकलना
  • जलन महसूस होना और जादा खारिश होना

दाद खाज खुजली का इलाज और घरेलू नुस्खे

Skin Itching Treatment in Hindi

 
1. खीरे के रस से हल्की मालिश करने से खुजली दूर हो जाती है।
2. अगर खुजली जादा होती है तो 1 हफ्ता टमाटर का रस सुबह सुबह पिए।
3. खारिश करने से अगर दानों में से पानी निकलता है तो आप इसे गीला होने से बचाए।
4. नीम की पत्तियों को पानी में उबाले और इस पानी से नहाए। इस घरेलू नुस्खे से कीटाणु खत्म होते है।
5. कपूर को नारियल तेल में डाल कर अच्छे से मिला ले और इचिंग वाली जगह पर मसाज करे।
6. एलोवेरा के पत्ते को काट कर इसका गुदा निकाल कर लगाने से स्किन इचिंग से राहत मिलती है।
7. खारिश बार बार हो तो देसी घी को गुनगुना करे और उससे हल्के हाथों से प्रभावित जगह पर मसाज करे।
8. थोड़ी से मुलतानी मिट्टी दो से तीन चम्मच गुलाब जल में मिलाकर इसका लेप लगाने से खुजली दूर होती है।
9. एक चम्मच डेटॉल एक चम्मच पानी में मिक्स कर ले और रूई से खुजली वाले स्थान पर लगाए। इस उपाय से भी खुजली खत्म होती है।
10. आप अगर दाद खाज खुजली की समस्या से परेशान है तो नहाते समय साबुन और शैम्पू का इस्तेमाल ना करे और स्नान के बाद नारियल का तेल लगाए।
खुजली का इलाज के घरेलू उपाय

  • दाद पर लहसुन की कुछ कलियां पीस कर लगाने से भी इस समस्या से राहत मिलती है।
  • दाद पुराना है तो इसके इलाज के लिए दाद खाज खुजली की क्रीम के इस्तेमाल से भी राहत मिलती है।
  • केले को पीस कर थोड़ा सा नींबू का रस इसमें मिलाकर लगाने से भी दाद खाज ट्रीटमेंट कर सकते है।
  • जादा चटपटा, नमक और मीठा खाने से बचे। गुलुकंद और दूध का सेवन भी दाद हटाने का घरेलू तरीका है।
  • गाजर कदूकस करे फिर थोड़ा सेंधा नमक इसमें डाले फिर गरम करे। दाद पर इस मिश्रण को लगाने पर दाद खत्म हो जाता है।
  • दाद पर नींबू का रस लगाने से दाद साफ़ होने लगता है। इस उपाय को दिन में दो से तीन बार करने पर कुछ ही दिनों में दाद खत्म हो जाएगा।
  • अनार के पत्तों से भी दाद खाज का उपचार कर सकते है। अनार के पत्तों को पीस कर इसका लेप दाद पर लगाए, इस उपाय से दाद दूर होने लगेगा।

दाद खाज खुजली ठीक करने के आयुर्वेदिक नुस्खे

1. जड़ से दाद खाज खुजली का ईलाज करने के लिए नीम के पत्ते दही में पीस कर लगाए।
2. गेंदे के फूल में एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुण होते है, पानी में गेंदे के पत्ते उबाल कर दिन में 2 से 3 बार प्रयोग करे।
3. हल्दी का लेप दाद खाज पर लगाने से भी इससे छुटकारा पाने में मदद मिलती है। एक बार दिन में और रात को सोने से पहले इस उपाय को करे।
4. अजवाइन गर्म पानी में पीस कर इसका लेप दाद पर लगाने से दाद ठीक होता है, इसके इलावा दाद को अजवाइन के पानी से धोने से भी फायदा मिलता है।
5. त्रिफला को भुन कर इसे पीस ले और चूर्ण बना ले, इस चूर्ण में सरसों का तेल, देसी घी, थोड़ी सी फिटकरी, सरसो का तेल और पानी मिलाकर मरहम बना ले। ये मरहम पकने वाले दाद के लिए रामबाण दवा है।

 
अगर खुजली अधिक हो रही है तो इसे हाथ से खुजाने की बजाय रूई या कोई मुलायम कपडा इस्तेमाल करे। आपकी स्किन अगर अधिक संवेदनशील है तो कोई भी उपाय और नुस्खा करने या फिर मेडिसिन (दवा) लगाने से पहले चिकित्सक से सलाह ज़रूर करे।

Loading...

LEAVE A REPLY