मेरा पर्स

0
184

एक बार एक ६० साल का व्यक्ति बस में जा रहा था | बस में उसका पर्स किसी  ने चुरा लिया | वयक्ति ने बस कंडक्टर से कहा भाई मेरा पर्स किसी ने चुरा लिया | God story in hindi
कंडक्टर  को एक पर्स मिला | उसने उस वक्ती को बताया की उसे एक पर्स मिला तो है पर ये कैसे मान  लिया जाये की यह पर्स तुम्हारा ही है | उस वयकि ने बताया की पर्स में एक भगवान् शिव (Lord Shiv ) की फोटो लगी  है . कंडक्टर ने कहा भगवान् शिव ( Lord Shiv ) की फोटो  तो किसी के भी  पर्स में लगी   हो   सकती  है |
वयकि ने बताया की इस  फोटो के  पीछे  बहुत  लम्बी कहानी है |
कंडक्टर ने पूछा कैसी कहानी वयक्ति ने बताया की यह पर्स बहुत ही पुराना है जब में १४ साल का था तो इस पर्स में मैं अपनी फोटो लगता था और उसे देखकर बहुत खुश होता था की में कितना स्मार्ट हु | फिर जब मेरी शादी हुई तो मेरी पत्नी की फोटो पर्स में लग गयी और बार बार फोटो देखकर सोचता की मेरी पत्नी कितनी अच्छी है | फिर कुछ सालो बाद मेरे बच्चे हुए तो बच्चों की फोटो पर्स में आ गयी | बच्चे बढे हुए सब अपने अपने काम पर निकल गए में अकेला रह गया | तब मुझे भगवन की याद आई .और तब फिर मैंने भगवान् Lord Shiv  की फोटो अपने पर्स में लगायी | मैंने पुरे  जीवन अपना प्यार बदलता रहा | कभी अपने से , कभी पत्नी से , कभी बच्चों से और सब मुझे छोड़ गए अब एक भगवान्  ही मेरे साथ हैं |जिन्हे मैंने पुरे जीवन याद तक नहीं किया |  कंडक्टर ने पर्स वयक्ति को दे दिया |
दोस्तों ऐसा हम सभी के साथ होता है जब कभी हमारे जीवन में कोई बढ़ी समस्या आती है तभी हमें भगवान् की याद आती है | अपने जीवन में नियम बनकर अगर हम भगवान् को याद करते हैं तो हमारा जीवन आसान हो जाता है |

Loading...

LEAVE A REPLY