दोस्तों आज हम आपको जीरा के बारे में बताएंगे जो हर घर में दाल और सब्जियों में प्रयोग किया जाता है।  अगर इसे थोड़ा सा भूनकर चाट में डाल दिया जाए तो चाट का स्वाद बिल्कुल चटपटा हो जाता है।  अंग्रेजी में हम जीरा को क्यूमीन भी कहते हैं।  यह देखने में सौंफ की तरह दिखता है यह हमारे खाने का स्वाद तो बड़ा ही देता है है साथ ही साथ यह कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है।

अगर आप का जुकाम कई दिनों से ठीक नहीं हो रहा है तो आप जीरे को भूनकर नाक के द्वारा सूंघे, इससे आपकी छींक आना बंद हो जाता है।

अगर आप अपच और कब्ज से परेशान हैं  तो एक गिलास ताजी छाछ के साथ सेंधा नमक और भुना हुआ जीरा मिलाकर खाने के साथ प्रयोग करें इससे आपके कब्ज से छुटकारा मिल सकता है।

अगर बच्चों में दस्त की समस्या हो गई है तो बबूल की ताजी कोमल पतियां और अनार की कली जीरा के साथ मिलाकर देने से बहुत ही लाभ मिलता है।

आंवले को भूनकर उसका अंदर की गुठली निकाल कर धीमी आंच पर भून लें फिर उसमें अपने स्वादानुसार जीरा अजवाइन थोड़ी सी भूनि हुई और सेंधा नमक मिलाकर गोली बनाने नियमित खाने से आपकी भूख बढ़ती है और साथ ही कब्ज और अपच से भी छुटकारा मिलता है।

पानी में जीरा डालकर उबाल लें और इसे कुछ देर के बाद फ्रिज में रख दें इसके पानी से मुंह धोने से आपका चेहरा बिल्कुल साफ और चमकदार हो जाएगा।

अगर आप अपने दांतो के दर्द से परेशान हैं तो जीरा और सेंधा नमक को काफी महीन पीस लें और इसको लगातार दिन में दो बार दांत साफ करने से आपके मुंह का दुर्गंध और दर्द दोनों दूर हो जाएंगे।

अगर आप थायराइड के रोग से परेशान हैं तो आप एक कप पालक के रस के साथ एक चम्मच शहद और भुना हुआ जीरा मिलाकर लगातार पीने से आराम मिलता है।

जीरा आयरन का मुख्य स्रोत होता है इसे नियमित रूप से खाने में प्रयोग करने से आपके शरीर के खून की कमी दूर हो जाती है ऐसा कहा जाता है कि गर्भवती महिलाओं के लिए एक अमृत की तरह काम करता है।

अगर आप जीरा अजवाइन और काला नमक का चूर्ण बना लें और रोजाना सुबह खाने से पहले एक चम्मच खा ले तो आपको तेज भूख लगती है।

अगर आप को डायरिया हो गया है तो दही में भुना हुआ जीरा मिलाकर लेने से काफी आराम मिलता है।

अगर आप का जी मिचला रहा है तो आप नींबू के रस के साथ भुने हुए जीरे को चाटने से पल मे ठीक हो जाएगा।

 

अगर आपको काफी देर से हिचकी आ रही है और ठीक नहीं हो रहा है तो सिरके में थोड़ा सा भुना हुआ जीरा मिलाकर खा लेने से हिचकी बंद हो जाता है।

अगर आप मलेरिया रोग से परेशान हैं तो जीरा और गुड़ को मिलाकर उनकी गोलियां बना लें इसके खाने से काफी लाभ मिलेगा।

अगर आप डायबिटीज या मधुमेह से परेशान हैं तो 2 छोटे चम्मच पीसे हुए जीरा को दिन में दो बार पानी के साथ लेने से मधुमेह नियंत्रण में हो जाता है।

अगर आप अनिद्रा से परेशान हैं रात में आपको नींद नहीं आती है तो इसके लिए पके हुए केले को मैस करने उसमें थोड़ा सा जिरा मिला लें और रात में खाना खाने के बाद खाये इसे नियमित प्रयोग करें इससे आप अनिद्रा से राहत महसूस करेंगे।

जिरे में दोस्तों एंटीसेप्टिक तत्व पाया जाता है अगर आपके सीने में कफ जम गया है तो जीरे को पीसकर लगातार प्रयोग करें इससे आपके सर्दी जुकाम से भी राहत दिलाएगा।

मेथी जीरा और अजवाइन इन सबके 50 50 ग्राम  और स्वादानुसार काला नमक मिलाकर पीस लें और रोजाना एक चम्मच प्रयोग करें इससे आपका शुगर, जोड़ों का दर्द और पेट संबंधित रोगों से आराम मिलेगा।

अगर आप दाद खाज खुजली से परेशान हैं जीरे को पानी में उबालकर स्नान करने से आपको काफी राहत मिलेगा।  अगर आप अपने याद आने की समस्या से परेशान हैं चीजों को अक्सर भूल जाते हैं तो आप रोजाना जीरा उबाल कर पिएं इससे आपकी यादश्त मजबूत हो जाएगा।

 

डिस्क्लेमर: इस पोस्ट में व्यक्त की गई राय लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं। जरूरी नहीं कि वे विचार या राय www.socialsandesh.in के विचारों को प्रतिबिंबित करते हों .कोई भी चूक या त्रुटियां लेखक की हैं और social sandesh की उसके लिए कोई दायित्व या जिम्मेदारी नहीं है ।

सभी चित्र गूगल से लिया गया है

Loading Facebook Comments ...

LEAVE A REPLY