काजू के फायदे और नुकसान

0
863

स्वादिष्ट और पौष्टिक से भरपूर काजू को ड्रायफ्रूट्स का राजा माना जाता है। महंगे होने के बावजूद यदि आप इसे नियमित रूप से खाते हैं तो इसके अनेक फायदे हैं। थकान को दूर करने और त्वचा की खूबसूरती बढ़ाने में सहायक काजू के बारे कहा जाता है कि सौ दवाइयां खाने की बजाए यदि आप काजू खाते हैं तो आपके शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद रहेगा।
मैगनीशियम, पोटैशियम, कॉपर, आयरन, मैगनीज, जिंक और सीलियम से भरपूर काजू खाने से शरीर को उर्जा मिलती है और मेटाबॉलिज्म ठीक होता है तथा दिल की बीमारी भी दूर रहती है। काजू का सूखे मेवे के रूप में सेवन किया जाता है। काजू से अनेक तरह की मिठाइयां व अन्य व्यंजन तैयार किए जाते है। सब्जियों में काजू डालकर उन्हें अधिक स्वादिष्ट बनाया जाता है।

काजू के पेड़ समुद्र के तटीय क्षेत्रों में अधिक होते है। भारत में सबसे ज्यादा काजू तमिलनाडु, बंगाल, केरल, और गोवा में बहुतायत से होते हैं। ऐसा कहा जाता है कि पांच सौ साल पहले पुर्तगाली काजू को अमेरिका से लाए थे।

काजू के फायदे

1. काजू को पानी के साथ पीसकर नमक के साथ चटनी बनाकर सेवन करने से अजीर्ण और अफारा की समस्या दूर होती है।
2. प्रोटीन से भरपूर काजू में किशमिश मिलाकर खाने से शारीरिक दुर्बलता दूर होती है।
3. काजू में मेगनीशियम होता है इसलिए इसका सेवन करने से हड्डियों को मजबूती मिलती है।
4. काजू को पानी में डालकर रखें। तीस मिनट बाद उसी पानी में पीसकर सेवन करने से शारीरिक निर्बलता दूर होती है।
5. कुष्ट रोग के कारण उत्पन्न त्वचा की शून्यता काजू की तेल की मालिश से दूर होती है।
6. काजू का तेल शरीर पर मलने से रुखापन दूर होता है और त्वचा अधिक कोमल व मुलायम होती है।
7. काजू में मौजूद मोनो सैचुरेटड फैट दिल की बीमारियों के खतरे को कम करता है।
8. काजू के सेवन से वीर्य वृद्धि होने से कामशक्ति विकसित होती है।
9. काजू पेट के कीड़े और अर्श की समस्या को नष्ट करता है।
10. काजू खाने से शरीर में वसा की कमी पूरी होती है। शरीर में शक्ति, स्फूर्ति और उत्साह विकसित होता है।
11. नियमित रूप से काजू के सेवन से दांतों को मजबूती मिलती है और मसूड़े भी स्वस्थ्य रहते हैं।
12. काजू के सेवन से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ती है क्योंकि काजू में लौह तत्व अधिक मात्रा में होता है।
13. एनीमिया के रोगी को काजू का सेवन कराने से बहुत लाभ होता है। काजू खून की कमी को दूर करता है।
14. डॉक्टर के अनुसार काजू खाने से पाचनशक्ति तीव्र होती है और अधिक भूख भी लगती है।

काजू खाने के नुकसान

1. अधिक मात्रा में काजू खाने से दस्त की विकृति हो सकती है। दस्त के रोगी को काजू का सेवन नहीं करना चाहिए।
2. अधिक मात्रा में काजू के सेवन से नाक से खून निकलने की संभावना बढ़ जाती है।
3. काजू के फल के छिलकों का तेल अधिक दाहक और त्वचा पर जख्म बना देता है।
4. गर्मी के महीने में काजू का सेवन नहीं करना चाहिए। गर्मी के दिनो में काजू के सेवन से शरीर का तापमान बढ़ जाता है।
काजू और वजन
पौष्टिकता से भरपूर काजू से आपके कॉलेस्ट्रॉल, ब्लड शुगर, सिर दर्द और हाई बल्ड प्रेशर को नियंत्रित तो करता ही है, साथ ही यह वजन को घटाने को घटाने में भी मददगार है। हालांकि यह उतना असरदार नहीं है।
बच्चों को काजू दें
काजू बच्चों को पसंदीदा ड्रायफ्रूट्स है। इसलिए बच्चों को इसे खाने के लिए दीजिए। अगर बच्चे खाते नहीं है तो इससे संबंधित कोई रेसिपी बनाकर उन्हें खिलाइए।
भारत में काजू का उत्पादन
काजू का सबसे ज्यादा उत्पादन महाराष्ट्र्, आंध्रा प्रदेश, ओडिसा, केरल, कर्नाटका, तमिलनाडु, गोवा, पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा होता है। वैसे काजू की उत्पत्ति ब्राजील में हुई है। यह पुर्तगालियों की वजह से भारत आया है। भारत में सबसे पहले काजू का उत्पादान गोवा में हुआ था। धीरे-धीरे इसका उत्पादान पूरे भारत में होने लगा।

Loading...

LEAVE A REPLY