ऑलिव ऑयल (जैतून का तेल ) के फायदे

0
53

जैतून का तेल एक स्वास्थ्यवर्धक तेल है। इसका प्रयोग कई तरह की बीमारियों में लाभदायक होता है साथ ही यह त्वचा संबंधी समस्याओं और सौंदर्य बढ़ाने के लिए भी खूब प्रयोग किया जाता है। ऑलिव ऑयल (जैतून का तेल) में फ्लेवसेनॉयड्स स्कवेलीन और पोरीफेनोल्स नामक एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। ये फ्री रेडिकल्स से सेल्स को बचाते हैं जिससे हार्ट डिजीज और हाई BP जैसी बीमारियों का खतरा टलता है। आइए जानते है ऑलिव ऑयल से होने वाले कुछ ऐसे ही फायदों के बारे में।
1. बाल झड़ना- रेग्युलर बालों में ऑलिव ऑयल, बादाम और सरसों का तेल मिलाकर मालिश करे। बालों का झड़ना कम होगा।
. हेल्दी हार्ट- हफ्ते में 2 या 3 बार खाने में ऑलिव ऑयल का यूज करे। इससे हार्ट डिजीज का खतरा टलता है। दिल मजबूत होता है और दिल का दौरा पडने की संभावना कम होती है।
3. डायबिटीज- डाइट में रेग्युलर 2 चम्मच ऑलिव ऑयल यूज करे। इससे ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रहेगा और डायबिटीज का खतरा टलेगा। जैतून के तेल में संतृप्त वसा लगभग ना के बराबर होता है जिससे यह आपके शुुगर लेवल को नियंत्रि‍त करता है। साथ ही इसे खाने से बॉर्डर लाइन डायबीटिज होने का खतरा 50 प्रतिशत तक कम हो जाता है।
4. हाई BP- खाने में ऑलिव ऑयल का यूज करने से बॉडी का ब्लड सर्कुलेशन सुधरता है। इससे हाई BP की प्रॉब्लम दूर होती है।
5. डैंड्रफ- रेग्युलर ऑलिव ऑयल से स्कैल्प पर मसाज करे। इससे बालो में डेंड्रफ की प्रॉब्लम कंट्रोल होगी।
6. हेल्दी स्किन- रेग्युलर ऑलिव ऑयल से पूरी बॉडी की मसाज करे। इससे स्किन सॉफ्ट और हेल्दी बनेगी।
7. झुर्रियां- ऑलिव ऑयल में नींबू का रस मिलाकर चेहरे की मसाज करे। झुर्रियों से राहत मिलेगी।
8. हेल्दी नेल्स- नेल्स को ऑलिव ऑयल में आधे घण्टे तक डुबोकर रखे। इससे नेल्स सॉफ्ट और चमकदार बनेगे।
9. हेल्दी लिप्स- फ़टे और रूखे लिप्स पर ऑलिव ऑयल से 5 मिंनट तक मसाज करे। इससे लिप्स सॉफ्ट और हेल्दी बनेगी।
10. ब्लैक हेड्स- नहाने के बाद एक चम्मच ऑलिव ऑयल को चेहरे पर लगाएं। ब्लैक हेड्स की प्रॉब्लम दूर होगी।
11. कैंसर- जैतून के तेल में एंटी-ऑक्सीडेंट की मात्रा भी काफी होती है। इसमें विटामिन ए, डी, ई, के और बी-कैरोटिन की मात्रा अधिक होती है। इससे कैंसर से लड़ने में आसानी होती है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में किए गए एक शोध के अनुसार जैतून का तेल आंत में होने वाले कैंसर से बचाव करने में अहम भूमिका निभाता है। इसके अलावा यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है।
12. ऑस्टियोपोरोसिस- जैतून के तेल में कैल्शि‍यम की काफी मात्रा पाई जाती है, इसलिए भोजन में इसका उपयोग या अन्य तरीकों से इसे आहार में लेने से ऑस्टियोपोरोसिस जैसी समस्याओं से निजात मिलती है।
13. मोटापा- लंबे समय तक जैतून के तेल को आहार में शामिल करने पर यह शरीर में मौजूद वसा को खुद ब खुद कम करने लगता है। इससे आपका मोटापा कम होता है, वह भी हेल्दी तरीके से।
14. मेकअप रिमूवर- जैतून के तेल को मेकअप रिमूवर के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। इसके प्रयोग से त्वचा रूखी भी नहीं होती और त्वचा का रंग गोरा होता है। यह त्वचा को पोषण प्रदान करता है।

Loading...

LEAVE A REPLY