कच्चे आम का पाउडर यानी कि आमचूर रसोई का एक प्रमुख  मसाला होता है जिसे कई प्रकार की सब्जियों में डाला जाता है इसे हम आम भाषा में खटाई भी कहते हैं।  तो आज  के इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि आप घर में ही कैसे आमचूर तैयार कर सकती हैं।  

दोस्तों आमचूर का प्रयोग आलू के पराठे, समोसे या चटकदार सब्जी बनाने के लिए करते हैं।  अगर किसी भी प्रकार की चटनी बनाते हैं जैसे धनिया की चटनी, पुदीने की चटनी उसमे आमचूर का  प्रयोग किया जाता है।

 ऐसे तो आमचूर बाजार में आसानी से मिल जाता है लेकिन हम पूरी तरह से भरोसा नहीं कर सकते हैं कि ये आमचूर कितना शुद्धहै।   इसलिए दोस्तों आपको हम घर में ही आसानी से आमचूर पाउडर बनाया जा सके यह विधि बता रहे हैं

 इसके लिए आपको चाहिए

  • कच्चा आम 1 किलो
  • सुखाने के लिए सूती का कपड़ा

अमचूर पाउडर बनाने की विधि

  • सबसे पहले कच्चे आम को अच्छी तरह से धो लें
  • फिर उसे साफ कपड़े से सुखा दें
  • सुखाने के बाद कच्चे आम का छिलका चाकू से या पिलर से निकाल दे
  • अब छिली हुई कच्चे आम को पतले पतले स्लाइस में काट लें
  • और इसकी गुठली हटा दो
  • उसके बाद कच्चे आम के कटे हुए पतले-पतले स्लाइस को  जो आपने सूती का कपड़ा लिया है उस पर अच्छी तरह से फैला कर सुखने के लिए रख दें
  • ऊपर से एक पतला कपड़ा  भी ढँक दे। ताकि धूल मिट्टी ना पड़ सके
  • इसे चार-पांच घंटे सूखने दें उसके बाद आप इसे 2 घंटे पर थोड़ा सा पलट दे।
  • आप दो-तीन दिन तक कच्चे आम को धूप में ऐसे ही सुखाएं उसके बाद आप देखेंगे कि आपके आपके कच्चे टुकड़े पूरी तरह ड्राई हो जाएगा
  • उसके बाद मिक्सर में जरुरत के अनुसार पीस लें और इसका पाउडर जब मर्जी आप अपने सब्जी या चटनी में प्रयोग कर सकते हैं।

अमचूर पाउडर बनाते हुए यह बातें हां ध्यान रखें

 अगर आपको अमचूर बनाने के लिए आम खरीद रहे हैं तो यह ध्यान रखें कि आप वही आम खरीदें जिस में रेशे बहुत कम हो।

 जिस दिन आपने कच्चे आम को सूखने के लिए डाला है उस दिन आप पूरे दिन आम को सूखने के लिए धूप में डालें ताकि पूरी तरह से वह सुख जाए नहीं तो आपका आमचूर सफेद हो सकता है

आम के टुकड़े पतला पतला हो  नहीं तो सूखने  में बहुत टाइम लगाएगा

 आम के टुकड़े को  आप मिक्सी में पीस लीजिये आपका आमचूर तैयार हो गया।

 अब इसे एक टाइट कंटेनर में रख दें यह 6 महीने तक खराब नहीं होगा।

 तो दोस्तों उम्मीद है आमचूर  बनाने की विधि आपको पसंद आई होगी आज के बाद आप बाहर से आमचूर खरीदने के बजाय घर में बनाना ज्यादा पसंद करेगी फिर मिलते हैं ऐसे ही किसी नए पोस्ट के साथ।  धन्यबाद।

डिस्क्लेमर: इस पोस्ट में व्यक्त की गई राय लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं। जरूरी नहीं कि वे विचार या राय www.socialsandesh.in के विचारों को प्रतिबिंबित करते हों .कोई भी चूक या त्रुटियां लेखक की हैं और social sandesh की उसके लिए कोई दायित्व या जिम्मेदारी नहीं है ।

सभी चित्र गूगल से लिया गया है

Loading Facebook Comments ...

LEAVE A REPLY